Why is Upset

ghalib-hindi-status

इंसान घर बदलता है, लिबास बदलता है,
रिश्ते बदलता है, दोस्त बदलता है,
फिर भी परेशान क्यों रहता है ?
क्योंकि वो खुद को नहीं बदलता।
मिर्ज़ा ग़ालिब ने भी कहा है ~
“उम्र भर ग़ालिब यही भूल करता रहा,
धुल चेहरे पे थी, और आइना साफ़ करता रहा”


Post Comment

four × 3 =

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)